Zindagi dard bhari shayari | dard bhare status | dard status image - All Shayari-Hindi poems,Love shayari,Hindi Quotes,shayari status

Latest

Thursday, November 4, 2021

Zindagi dard bhari shayari | dard bhare status | dard status image

 

Zindagi dard bhari shayari
Zindagi dard bhari shayari


Zindagi dard bhari shayari

इस पोस्ट में आपको Dard bhare status,dard bhare status image, zindagi dard bhari shayari photo ,dard bhare status image, Zindagi dard bhari shayari देखने को मिलेगा मुझे उम्मीद है कि आपको जरूर पसंद आएगा


पिछले दिनों होली थी पर चेहरे पर कोई रंग नही था 

वो मेरी यादो में थी पर मैं उसके संग नही था
चिरागो के लव भी जल रहे थे मेरे रूबरू और
हम किसी आशा में खोए रहे
फिर एक पल आया कि इंतजार करते करते थक गई मेरी आँखें और ओ चादर तान के सोये रहे
Zindagi dard bhari shayari
Zindagi dard bhari shayari

आज कल हमसे नजरे चुराने लगे हो
पूछती हूं कुछ और , कुछ और बताने लगे हो
कही ऐसा तो नही की हमारी गली से किसी और गली जाने लगे हो 
Dard bhare status
Dard bhare status

जबसे तुम छोड़के गए हो
की जबसे तुम छोड़के गए हो हम तुम्हे इस कदर भुला बैठे हैं
तुम्हे भूलने के खातिर किसी और से दिल लगा बैठे हैं 


Dard bhare statusZindagi dard bhari shayari


Zindagi dard bhari shayari
Zindagi dard bhari shayari

तुम्हे क्या लगा कि तुम छोड़ कर चले जाओगे तो हम टूट जाएंगे
हम इन्सान हैं जनाब कोई कांच के टुकड़ा नही की टूट कर बिखर जाएंगे

आज भी हमें ओ शाम याद है
जब तुम डेढ़ बरस बाद प्रदेश से घर को आये थे
तेरे आँगन में ख़ड़ी थी इंतजार मे तेरे मगर तुम साथ मे मेरी सौतन को लाये थे
मुझे लगा कि तुम मुझसे मिलने आये हो
लेकिन तुम तो girlfriend को अपनी माँ से मिलाने आये हो

 
तस्वीरे अक्सर झूठ बोलती हैं
की तस्वीरे अक्सर झूठ बोलती हैं ये मैंने आईने में झांक कर देखा है
कहने को तो कई अपने हैं
सच कहूं तो कोई अपना नही 
Zindagi dard bhari shayari
Zindagi dard bhari shayari

दिल तोड़कर जाने वाले के दिल मे मोहब्बत जागे
मेरा ओठ गीता कुरान पढ़कर ये दुआ मांगे
ढ़लती शामें रंगीन हो जाये
मैं उन्हें दुआओं में मांगू और हर तरफ  आमीन हो जाये 

Dard status image and Zindagi dard bhari shayari


dard status image
Dard status image 

सच कहतें है कि जोड़ियां ऊपर बनती हैं
जमीं पर तो मैंने अक्सर बिछड़ते देखा है 

दिल की बांते दिल मे रख ली ,
दिल की बांते दिल मे रख ली ।।
कितना बड़ा दिल रख लिया हमने अपने दिल मे
आप बहोत अच्छे हैं कमबख्त यही तो एक खराबी है मुझमे
मेरे आंसुओ को छिपा ले मुस्कुराटे मेरी ,,
की मेरे आंसुओ को छिपा ले मुस्कुराटे मेरी
ऐसी है अदाकारी मेरी 

मेरे इश्क का अच्छा सिला दिया उसने
डूबते हुए सूरज को उगा दिया उसने
और बदनाम करके गांव घर मे
शहर भर में मशहूर कर दिया मुझे 

ये राज की बात है ,
की ये राज की बात है बीते कल और आज की बात है
आज फिर खबर छपी है एक दरिन्दगी की अखबार में
खुस होइये जनाब बहोत नाज की बात है

जिसने जितना रुलाया उन सब का हिसाब होगा ।
की जिसने जितना रुलाया उन सब का हिसाब होगा
वक्त वक्त की बात है दोस्त आज तू करले कल हम तेरा करेंगे

अब दर्द में कितना रहू चिखुंगा चिल्लाऊंगा नही
अब सामने तू कितने भी प्यार से बुलाले
पर तेरे करीब अब आऊंगा नही
और तेरे खातिर मैं खूद को बहोत बार मार चुका हूँ
अब अगर तू मेरे सामने भी मर जाये
तो तेरे जनाजे पर आऊंगा नही 


आसमान में उड़ने का ख्वाब क्यू सजा रहे हो जब चलना जमीन पर है
की आसमान में उड़ने का ख्वाब क्यू सजा रहे हो जब चलना जमीन पर है
और उससे दिल लगाकर क्या उखाड़ लोगे
जब उसका मर मिटना सब रकीब पर है 

No comments:

Post a Comment